अध्याय 2-लोगों को जज मत करें :

एक व्यक्ति दूसरों को उनके कम आत्म-मूल्य और आत्म-सम्मान की कमी के कारण जज करता है। वे judgmental इसलिए भी होते है क्योकि खुद को criticise करते रहते है, उनका नजरिया भी अपने लिए negative होता हैं।

यह एक ऐसी प्रक्रिया है जिसमें व्यक्ति जितना अधिक अपने बारे में बुरा महसूस करता है और अपनी ego को satisfy  करने के लिए दूसरों की निंदा करता हैं।

हालाँकि कभी-कभी लोग अपने बारे में गलत राय रखते हैं और उन्हें लगता है कि वे अपने रूप, कौशल, ज्ञान आदि के मामले में दूसरों से श्रेष्ठ हैं। यह झूठी राय उन्हें दूसरों की नज़रों में और गिरा देती है।

ऐसे लोग हर एक व्यक्ति से मिल कर सम्बन्ध नहीं बना सकते।

Quiz

1. जब भी आप किसी को अनुचित व्यवहार करते देखते हैं तो आप उसके व्यवहार को नज़रअंदाज़ कर देते हैं और उसे वैसे ही स्वीकार कर लेते हैं जैसे वह है।
2. आप जानते हैं कि लोग अलग हो सकते हैं और अलग तरह से कार्य कर सकते हैं।
3. जब कोई आपसे कहता है कि आप अक्सर आलोचना करते हैं, तो आप सुधार करने का प्रयास करते हैं।
4. जब आपके आस-पास के लोग आपकी उम्मीदों पर खरे नहीं उतरते हैं तो आप चिढ़ जाते हैं।
5. लोग अक्सर कहते हैं कि आप आशावादी हैं।

 

To know more about the topic please read the article. 

Sign up to receive new posts

close
Mother child bird

Don’t miss these tips!

.

error: Alert: Content is protected !!