जीवन में आशा वापस लाने के उपाय What should I do to regain hope in life?

Synopsis

घर में बुजुर्ग लोगों के साथ कुछ समय बिताना चाहिए जिससे आपको जीवन के उतार-चढ़ाव में उनके अनुभवों से सीखने का अवसर मिलता है।

जीवन में ऐसे क्षण आते हैं जब आप हार मान लेते हैं क्योंकि जीवन में hope and positivity के लिए कोई जगह नहीं होती है।

आपको लगता है कि चीजें आपके लिए कभी सही नहीं होंगी। बहुत से लोग अपने जीवन में कभी न कभी ऐसी मानसिक स्थिति से गुजरते हैं। हालांकि, ऐसी स्थिति से उबरने के कई तरीके हैं। उनको follow करने से आपको जीवन में आशा की किरण देखने में मदद मिलेगी।

जीवन में आशा वापस लाने के लिए यहाँ कुछ सुझाव दिए गए हैं जिन्हें आप अपना सकते है :

1. नए लोगों से मिलें और बात करें:

आप अपने आस-पड़ोस के नए लोगों से मिलने की कोशिश कर सकते हैं।

ये लोग आपके रिश्तेदार, दुकानदार, घरेलू नौकर, सह-यात्री आदि हो सकते हैं।

सिर्फ उनसे मिलना ही नहीं, आप उनसे बात करने की कोशिश कर सकते हैं और सहज  होने पर उनके साथ विचार साझा कर सकते हैं।

2. अपनी दिनचर्या में कुछ बदलाव करें

आपको कुछ बदलाव करने होंगे और नई चीजें शामिल करनी होंगी, जैसे अपना नाश्ता बनाना, खरीदारी के लिए जाना और टेलीविजन पर एक अलग शो देखना।

छोटे-छोटे बदलाव करना सिर्फ जीवनशैली में बदलाव के बारे में ही नहीं है, बल्कि यह मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य दोनों के लिए फायदेमंद हो सकता है।

3. अपने परिवार के साथ नई जगहों की यात्रा करें।

आप अपने परिवार के सदस्यों या अपने करीबी दोस्तों के साथ स्टेशन के अंदर और बाहर यात्रा करने की योजना बना सकते हैं। यात्रा करना और नई जगह देखना जीवन को एक नया रूप देता है।

4. बुजुर्ग लोगों के साथ समय बिताएं

आपको घर में बुजुर्ग लोगों के साथ कुछ समय बिताना चाहिए जिससे आपको जीवन के उतार-चढ़ाव में उनके अनुभवों से सीखने का अवसर मिलता है।

5. अच्छा यही होगा कि आप कुछ ऐसा करें जिससे आपके माता-पिता खुश हों। यह घर के कामों में उनकी मदद करने से लेकर उनके लिए उपहार लेने तक कुछ भी हो सकता है। आप उनकी कुछ अनछुए शौक शुरू करने में भी मदद कर सकते हैं। उनकी खुशी और आपके प्रति कृतज्ञता की चमक देखकर आपके मन में एक नई शक्ति का संचार होगा।

6. Wiki-How पर कुछ लेख लिखें। विकी आर्टिकल्स का इस्तेमाल लोगों को फ्री में अच्छी जानकारी देने के लिए किया जाता है।

7. आप अपने आसपास के गरीब बच्चों को फ्री में पढ़ा सकते हैं। किसी को पढ़ाना बहुत अच्छा काम है। जीवन में फिर से उम्मीद जगाने के लिए आपको याद रखना चाहिए कि न्यूटन के नियम के अनुसार हर चीज की बराबर और विपरीत प्रतिक्रिया होती है।

इसलिए, जब आप जीवन में विश्वास खो चुके हों, तो दूसरे लोगों के जीवन में आशा लाने का प्रयास करें और बदले में आपको भी जीवन में आशा मिलेगी। यह विपरीत लगता है, लेकिन इसे कई लोगों ने आजमाया है। हम जो भी देते हैं वह वापस आता ही  है।

8. ऑनलाइन प्लेटफॉर्म Quora पर अपनी जानकारी के अनुसार उत्तर लिखें। आप किसी की मदद करेंगे, जिससे आपको संतुष्टि मिलेगी।

9. एक YouTube चैनल लॉन्च करें और जो चीजें आप जानते हैं उन्हें साझा करें।

10. self-help पुस्तकें और महान लोगों की जीवनियाँ पढ़ें। किसी को अपना आदर्श बनाएं और जीवन के प्रति उनके दृष्टिकोण का अनुसरण करने का प्रयास करें।

11. ट्विटर पर अपने आदर्श व्यक्तित्वों को अनुमति दें। उनके विचारों और कार्यों से आपको लाभ होगा। आप उनसे जुड़ाव महसूस करेंगे।

12. अपनी भावनाओं को अपने दोस्तों, परिवार और रिश्तेदारों के साथ साझा करें जिनके साथ आप सहज महसूस करते हैं। यह बहुत महत्वपूर्ण है कि जिस व्यक्ति से आप बात कर रहे हैं वह आपकी भावनाओं को समझे और आपका मजाक न उड़ाए।

13. कोशिश करके देखें कि आपके जीवन में ऐसा क्या है जो दुनिया के सभी लोगों के पास नहीं है। यह पता लगाने की कोशिश करें कि आपके पास ऐसा कौन सा कौशल है जो अन्य लोगों के पास नहीं है। फिर एक मंत्र  मन ही मन में दोहराएं कि मैं कुछ अच्छा कर सकता हूं। आप इस मंत्र का कई बार जाप भी कर सकते हैं।

जीवन में दो रास्ते होते हैं। नकारात्मक और सकारात्मक दोनों ही विपरीत दिशाओं में चलते हैं। आत्म-संतुष्टि, आत्म-गौरव और आत्म-जागरूकता से बना एक सकारात्मक मार्ग भी  है जो सभी को आशावादी बनाता है। यह मंत्र आपको कब नकारात्मक से सकारात्मक में बदल देता है, आपको कभी पता नहीं चलेगा।

Sign up to receive new posts

close
Mother child bird

Don’t miss these tips!

.

Anshu Shrivastava

Anshu Shrivastava

मेरा नाम अंशु श्रीवास्तव है, मैं ब्लॉग वेबसाइट hindi.parentingbyanshu.com की संस्थापक हूँ।
वेबसाइट पर ब्लॉग और पाठ्यक्रम माता-पिता और शिक्षकों को पालन-पोषण पर पाठ प्रदान करते हैं कि उन्हें बच्चों की परवरिश कैसे करनी चाहिए, खासकर उनके किशोरावस्था में।

Anshu Shrivastava

Anshu Shrivastava

मेरा नाम अंशु श्रीवास्तव है, मैं ब्लॉग वेबसाइट hindi.parentingbyanshu.com की संस्थापक हूँ।
वेबसाइट पर ब्लॉग और पाठ्यक्रम माता-पिता और शिक्षकों को पालन-पोषण पर पाठ प्रदान करते हैं कि उन्हें बच्चों की परवरिश कैसे करनी चाहिए, खासकर उनके किशोरावस्था में।

Follow me on
Like this article? Share.
Facebook
Twitter
WhatsApp
Email

Popular Posts

error: Alert: Content is protected !!